Dehradunउत्तराखंडराजनीति

लोकसभा चुनाव से पहले ही उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी बिखरी

प्रदेश समन्वयक रहे जोत सिंह बिष्ट समेत कई पदाधिकारियों का सामूहिक इस्तीफा

Listen to this article

Amit Bhatt, Dehradun: लोकसभा चुनाव सिर पर हैं और सभी राष्ट्रीय व क्षेत्रीय पार्टियां जोरशोर से तैयारियों में जुट गई हैं। उत्तराखंड की पांच लोकसभा सीटों पर भाजपा-कांग्रेस को चुनौती देने का दावा कर रही आम आदमी पार्टी यहां मुश्किल में नजर आ रही है। लोकसभा चुनाव से ऐन पहले पार्टी के कई पदाधिकारियों ने साथ छोड़ दिया है। संगठन के रैवये से नाखुश होकर इन नेताओं ने खुद को पार्टी से अलग करना ही ठीक समझा। संगठन के रैवये से नाखुश होकर आप के उत्तराखंड समन्वयक जोत सिंह बिष्ट, प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश बिष्ट, प्रदेश प्रवक्ता आरपी रतूड़ी, कमलेश रमन समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने सामूहिक इस्तीफा दिया है।

जोत सिंह बिष्ट, आप उत्तराखंड में प्रदेश समन्वयक की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

देहरादून व हल्द्वानी में सौंपे गए त्यागपत्र में वरिष्ठ पदाधिकारियों ने पार्टी आलाकमान पर संगठन के प्रति उपेक्षा का आरोप लगाया है। पार्टी और प्रदेश समन्वयक की जिम्मेदारी छोड़ने वाले जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि तीन माह से पार्टी की सभी इकाइयां भंग चल रही हैं। उन्होंने कहा कि आप के उत्तराखंड प्रभारी बरिंदर कुमार गोयल और सह प्रभारी रोहित महरोलिया को पद संभाले हुए 10 माह हो चुके हैं और उनकी तरफ से संगठन को मजबूत करने के लिए कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। लोकसभा चुनाव सिर पर होने के बाद भी पार्टी के भीतर कोई हलचल नजर नहीं आ रही। जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि प्रदेशभर में करीब 200 कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ी है।

आप छोड़ने के बाद उठा सकते हैं बड़ा कदम
आम आदमी पार्टी का दामन छोड़ने वाले उत्तराखंड के तमाम पदाधिकारी सोमवार को बड़ा कदम उठा सकते हैं। जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि अगले कदम के लिए पार्टी छोड़ने वाले सभी कार्यकर्ता सोमवार को मंत्रणा करेंगे। जिसके बाद आगे के कदम के बारे में निर्णय लिया जाएगा। किसी पार्टी के साथ जुड़ने के सवाल पर जोत सिंह बिष्ट ने कहा कि उनके सम्मुख सभी विकल्प खुले हैं। जो भी पार्टी सम्मान के साथ प्रस्ताव देगी, उस पर विचार किया जाएगा।

आम आदमी पार्टी विशाल ट्रेन, 04 यात्री उतरते हैं तो 500 चढ़ जाते हैं: मैहरोलिया 

आज आम आदमी पार्टी उत्तराखंड से सामूहिक त्यागपत्र की खबर के बाद प्रदेश सह प्रभारी आप उत्तराखंड रोहित मैहरोलिया ने अपने वक्तव्य में कहा कि वर्तमान समय मे आम आदमी पार्टी एक विशाल ट्रेन का स्वरूप ले चुकी है। जो अपने गंतव्य की ओर तेज गति से बढ रही है। रास्ते में पड़ रहे छोटे-बडे स्टेशन पर यदि 04 यात्री उतर रहे हैं तो 500 यात्री ट्रेन मे चढ रहे हैं। उन्होंने कहा पिछले कुछ समय से पार्टी में अपने हित साधने को लेकर संबंधित लोगों द्वारा अपनी मनमानी करने का दबाव बनाने का प्रयास किया जा रहा था। हमारे संज्ञान मे था कि उक्त सभी लोग दूसरे राजनीतिक दलों के संपर्क में भी चल रहे थे। जो लोग 700 कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी छोडने की बात कह रहे हैं, उनके साथ 7 लोग भी नही थे। यदि होते तो वह संगठन के कार्यक्रमों मे भी नजर आते। प्रदेश में पार्टी के पास आज भी कई प्रतिभाशाली व प्रबुद्ध चेहरे दृढता के साथ खडे हैं।

संगठन का समर्पित कार्यकर्ता व काडर पार्टी के साथ है, भाजपा सरकार के दबाव में चंद लोग पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं। जिनकी पार्टी की कार्यप्रणाली में पूर्व से ही कोई आस्था नहीं है। पार्टी का शीर्ष नेतृत्व शीघ्र ही उत्तराखंड में संगठन निर्माण कर आगामी सभी चुनाव में अपनी भागीदारी हेतु प्रतिबद्ध होकर अपना कार्य कर रहा है। राज्य के कई प्रबुद्ध चेहरे पार्टी में आकर कार्य करने को निरंतर संपर्क कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button