आपदा प्रबंधनउत्तराखंडपर्यटन

नैनबाग में खाई में गिर गई कार, दो दिन बाद चला पता, दो शव बरामद

दुर्घटना स्थल पर बरामद शव दून व हरिद्वार निवासी दो व्यक्तियों के मिले, परिजनों ने दर्ज करा रखी थी गुमशुदगी, दूसरी तरफ नीलकंठ मार्ग पर गिरी बोलेरो

Listen to this article

 Amit Bhatt, Dehradun: जो किया-सॉनेट कार दो दिन से लापता चल रही थी, वह नैनबाग के पास गहरी खाई में यमुना नदी किनारे दुर्घटनाग्रस्त मिली। स्थल पर दो व्यक्तियों के शव भी बरामद किए। दोनों की पहचान देहरादून और हरिद्वार निवासी के रूप में हुई है, परिजनों ने इनकी गुमशुदगी दर्ज करा रखी थी।

नैनबाग के पास दुर्घटनाग्रस्त पाई गई कार, इस हादसे में दो व्यक्तियों की मौत हो गई

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक विजय वालिया (53 वर्ष ) पुत्र रामचंद्र वालिया, निवासी सेवाला कलां देहरादून व पवन कुमार (67 वर्ष) पुत्र रतन सिंह निवासी जगजीतपुर कनखल हरिद्वार करीब दो दिन से लापता चल रहे थे। वह किया-सॉनेट कार UK08AY1973 पर सवार थे। उनकी कार सहित गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी।

सोमवार को जानकारी मिली कि यह कार मरोड़ बैंड नैनबाग से करीब दो-तीन किलोमीटर आगे यमुना नदी की तरफ खाई में गिरी है। सूचना पर राजस्व टीम, पुलिस टीम व एसडीआरएफ बड़कोट की टीम ने निरीक्षण किया तो कार दुर्घटनाग्रस्त थी और दो शव भी पड़े थे। शव की पहचान उक्त व्यक्तियों के रूप में की गई। बताया जा रहा है कि मृतकों के परिजन भी सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंच चुके थे।

नीलकंठ मार्ग पर बोलोरो खाई में गिरी,सात घायल
नीलकंठ मार्ग पर गरुड़ चट्टी से करीब एक किलोमीटर पहले एक बोलेरो कार खाई में गिर गई। वाहन में सवार सात लोग दुर्घटना में घायल हुए हैं। सभी लोग पंजाब से यहां नीलकंठ महादेव के दर्शन करने आए थे और वापस लौट रहे थे। गनीमत यह रही कि खाई में गिरने के बाद बोलेरो गंगा से कुछ दूरी पर चट्टान में रुक गई। वाहन में सवार सभी लोग एक ही परिवार के हैं, जो अवतार नगर, जालंधर पंजाब के रहने वाले हैं। वाहन को संजीव चला रहे थे। साथ में उनकी पत्नी स्वाति, दो बच्चे और तीन बुजुर्ग महिलाएं सवार थे। सभी घायलों को एम्स ऋषिकेश भेजा गया है। दुर्घटना के दौरान गंगा से राफ्टिंग गाइड, होमगार्ड और पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। उनके अथक प्रयास से सभी घायलों को बाहर निकाला गया।

बाइक सवार पर गुलदार का झपट्टा, बाल-बाल बची जान
लैंसडाउन में बाइक पर गुलदार ने झपट्टा मार दिया। बाइक में दो युवक सवार थे।
सोमवार रात क़रीब आठ बजे लैंसडाउन निवासी पंकज रावत अपने मित्र के साथ बाइक के पीछे बैठकर कालेश्वर मंदिर से आगे गोल्डफ़िश प्री प्राइमरी स्कूल की ओर जा रहा था। इसी बीच गुलदार ने पंकज पर झपट्टा मारा और उसे बाइक से खींचने का प्रयास किया। लेकिन, गुलदार का हमला क़ामयाब नहीं हो पाया। घटना के बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त है। पंकज रावत सहित अन्य लोगों ने वन विभाग से गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाने की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button